अटल पेंशन योजना (Atal pension Yojana) क्या है? जानिए इस योजना में आवेदन कैसे करें।

अटल पेंशन योजना(Atal pension Yojana) : दोस्तों यह हर कोई चाहता है कि रिटायरमेंट के बाद यानी बुढ़ापा आने पर जीवन अच्छा तरीके से व्यतीत हो, क्योंकि महंगाई के इस दौर में हमारे पास रिटायरमेंट के बाद पैसे का स्रोत होना बहुत जरूरी होता है। जिससे हम वृद्धा अवस्था में अपना खर्च को जुटा सके। बुढ़ापा एक ऐसा समय होता है जब हमारा शरीर पहले जैसा काम नहीं करता है इस स्थिति में यदि हम शुरू से ही थोड़ी-थोड़ी बचत नहीं करेंगे तो 60 से अधिक उम्र के हो जाने के बाद हमें कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। 

केंद्र सरकार द्वारा इन्हीं सभी बातों को ध्यान में रखते हुए अटल पेंशन योजना का शुरूआत किया गया है। इस योजना के अंतर्गत आम नागरिक भी युवा अवस्था से ही इस योजना में थोड़ा-थोड़ा पैसा जमा करके अपना बुढ़ापा अच्छा से व्यतीत कर सकते हैं। अगर आप शुरू से ही बुढ़ापे के लिए अच्छा निवेश करेंगे तो वृद्धावस्था में किसी से भी पैसे मांगने की जरूरत नहीं पड़ेगी। निम्न और मध्य वर्ग के लोगों के लिए अटल पेंशन योजना किसी वरदान से कम नहीं है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से अटल पेंशन योजना से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां देने वाले हैं ताकि आप इस योजना का लाभ उठाकर अपने आने वाले भविष्य को सुरक्षित कर सके।

मुख्य बिंदु

(Atal pension Yojana) अटल पेंशन योजना क्या है?

अटल पेंशन योजना (एपीवाई) एक पेंशन योजना है जो भारतीय नागरिकों के लिए है, और इसका मुख्य लक्ष्य असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों पर है। इस योजना के तहत, ग्राहकों को उम्र 60 वर्ष में 1,000/-, 2,000/-, 3,000/-, 4,000/-, या 5,000/- रुपये प्रति माह की न्यूनतम पेंशन की गारंटी दी जाती है, जो उनके योगदान के आधार पर होती है। इस योजना में, भारत के किसी भी नागरिक को शामिल होने का अवसर है।

अटल पेंशन योजना या एपीवाई एक सरकारी पेंशन स्कीम है जिसमें निवेश कर आप अपना बुढ़ापा सुरक्षित कर सकती हैं। मूल रूप से यह स्कीम असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले गरीब वंचित श्रमिकों को ध्यान में रखकर शुरू किया गया है। 1 अक्टूबर 2022 के बाद ऐसा कोई भी व्यक्ति इस योजना में निवेश नहीं कर सकेगा, जो इनकम टैक्स देता है। योजना के तहत सरकार लाभार्थियों को 60 साल की उम्र यानी रिटायरमेंट की उम्र के बाद मासिक पेंशन की गारंटी देती है।

पेंशन की आवश्यकता

  • आयु के साथ संभावित income में कमी
  • परमाणु परिवार का उदय – कमाने वाले सदस्य का प्रस्थान
  • जीवन यापन की लागत में वृद्धि
  • दीर्घायु में वृद्धि
  • निश्चित मासिक आय बुढ़ापे में सम्मानजनक जीवन सुनिश्चित करती है।

अटल पेंशन योजना में कितना पेंशन मिलता है? 

सरकार एक हज़ार रुपये से ₹5,000 प्रति महीने पेंशन देती है। पेंशन की रकम आपके निवेश पर निर्भर करता है। यानी आप जैसा पेंशन चाहेंगे, आपको उसी के आधार पर निवेश करना होगा। लेकिन निवेश कितना करना होगा, यह आपकी उम्र पर निर्भर करता है। मतलब आप जितनी जल्दी निवेश करना शुरू करेंगी, पैसे उतने ही कम जमा करने पड़ेंगे।

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए कि आपने एक हज़ार रुपये प्रति महीने के पेंशन स्कीम को चूज किया और आप यह निवेश 18 साल की उम्र में शुरू करना चाहते हैं तो आपको प्रति महीने ₹42 जमा करने होंगे। अगर 28 की उम्र में निवेश करते हैं तो प्रति महीने देने होंगे। संतान में रुपये और 38 की उम्र में अगर शुरू करती हैं तो देने होंगे ₹240।

अटल पेंशन योजना में कितने समय के लिए करना होगा निवेश? 

आप निवेश 18 से 40 की उम्र के बीच कभी भी शुरू कर सकती हैं और इसे 60 साल की उम्र तक जारी रखना होगा। चूंकि स्कीम मूल रूप से असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए है तो पैसे जमा करने को लेकर सरकार ने थोड़ी रियायतें भी दी हैं। जैसे आप चाहें तो हर महीने, हर तीन महीने या हर छह महीने पर निवेश की रकम जमा कर सकती हैं। 

Atal Pension Yojana Calculator – APY Calculator in hindi

दोस्तों, जब हम Atal Pension Yojana के बारे में सुनते हैं, तो एक बड़ा प्रश्न यह होता है कि मुझे कितना योगदान करना होगा? आपकी योगदान दो कारकों पर निर्भर करती है।

  • पेंशन की रकम जो आप लेना चाहते हैं।
  • जिस उम्र में आप इस योजना के लिए आवेदन करेंगे।

अटल पेंशन योजना कैलकुलेटर से अपनी पेंशन कैलकुलेट करने के लिए आप इस पोस्ट को पढ़ सकते हैं।

Atal Pension Yojana Calculator – APY Calculator in Hindi | कितनी मिलेगी आपको पेंशन, ऐसे पता करें

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) शुरू करने के लिए आवश्यक दस्तावेज।

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • एड्रेस प्रूफ
  • मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फ़ोटो
  • आवेदक के पास बैंक खाता होना चाहिए और बैंक अकॉउंट, आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए। 

अटल पेंशन योजना (APY) के फायदे क्या हैं? 

  • हर महीने आपको गारंटीड पेंशन मिलती है।
  • इस योजना के अंतर्गत हर महीने ₹1000 से ₹5000 तक की पेंशन रिटायरमेंट के बाद दी जाती है।
  • लाभार्थी की किसी कारणवश मौत हो जाती है तो पेंशन की बढ़ी राशि उनकी पत्नी या पति को हर महीने मिलने लगती है। 
  • लाभार्थी और उसकी पत्नी दोनों की ही मौत हो जाती है तो नॉमिनी को 1,70,000 रुपये से 8,50,000 रुपये तक दिए जाते हैं।
  • अटल पेंशन योजना के तहत दी गई पेंशन से वृद्ध नागरिकों को सामाजिक व आर्थिक सुरक्षा मिलती है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक द्वारा जमा की गई राशि पर इनकम टैक्स नहीं लगता है।

एपीवाई अकाउंट कैसे खोल सकते हैं? (How to Apply for Atal Pension Yojana)

  • Step 1: Locate a Nearby Bank

एपीवाई अकाउंट खोलने के लिए आपके पास किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में एक्टिव सेविंग अकाउंट होना अनिवार्य है। अपने निकटतम बैंक शाखा या डाकघर पर जाएँ जो अटल पेंशन योजना प्रदान करता है। आप आधिकारिक वेबसाइट पर भी अधिकृत banks की सूची पा सकते हैं। देश के अमूमन सभी सरकारी और प्राइवेट बैंक में एपीवाई अकाउंट खोलने की सुविधा दी गई है।

  • Step 2: Fill the Registration Form

अकाउंट खोलने का प्रोसेस भी बहुत आसान है। आपको किसी बैंक से एपीवाई अकाउंट ओपनिंग फॉर्म लेना है, उसे भरना है। मुख्य रूप से फॉर्म में तीन जानकारी मांगी जाएगी। सबसे पहले आपके बैंक सेविंग अकाउंट डीटेल्स, फिर पर्सनल डिटेल्स।

  • Step 3: Choose Your Pension Amount

तीसरा स्टेप है पेंशन डीटेल्स, जिसमें आपको अपना पेंशन प्लान चूज करना होगा। मसलन आप एक हज़ार, दो हज़ार, पाँच हज़ार कितने रुपये का पेंशन चाहते हैं। अब निवेश आप हर महीने करेंगे, क्वार्टरली करेंगे या हाफ ईयरली, इसे भी आप चूज़ करेंगे।

  • Step 5: Maintain Sufficient Balance

हां, लेकिन मान लीजिए कि तय दिन जो दिन आपने तय किया है, उस दिन आपके अकाउंट में पैसे ही नहीं हैं। ऐसी स्थिति में आपको एक महीने का पूरा वक्त दिया जाता है। जब भी पैसे आएं, वह अपने आप अकाउंट से कट जाएंगे।

  • Step 6: Receive Confirmation

इसके बाद आपके फॉर्म को वेरिफाई किया जाएगा। अगर सब कुछ ठीक रहा तो ईमेल या एसएमएस के माध्यम से आप तक सूचना पहुंच जाएगी।

अटल पेंशन योजना के लिए ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड कैसे करें?

अगर आप चाहे तो अटल पेंशन योजना में आवेदन के लिए आवेदन फार्म इसके ऑफिशल वेबसाइट से भी डाउनलोड कर सकते हैं। आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • अटल पेंशन योजना का आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए आपको सबसे पहले NSDL के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आपको अटल पेंशन योजना का विकल्प दिखेगा जिस पर आपको क्लिक करना है।
  • अब आगे पेज में फार्म के ऑप्शन पर क्लिक करके APY सब्सक्राइबर रजिस्ट्रेशन फॉर्म के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर अटल पेंशन योजना आवेदन फार्म का पीडीएफ खुलकर आ जाएगा।
  • यहां से आप इसके फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं और प्रिंटआउट भी निकलवा सकते हैं।
  • इन स्टेप्स को फॉलो करके आप आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं और उसे भरकर बैंक में जमा करवा सकते हैं।

अटल पेंशन योजना से पैसा कैसे निकालें?

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से पैसा निकालने के लिए निम्नलिखित दिशानिर्देशों का पालन करें:

  1. पेंशन का आदान-प्रदान: आपकी चयनित पेंशन, आयु के साथ जुड़ी होती है, जिस वक्त आपने योजना में शामिल होते समय इसे चुना था। आपका पूर्णावाधि (retirement) आयु आई जब आपको पेंशन प्राप्त करने का हक होता है।
  2. पेंशन का प्राप्तकरण: पेंशन प्राप्त करने के लिए आपको अपने बैंक खाते में पेंशन राशि क्रेडिट होती है। पेंशन का आदान-प्रदान आपके द्वारा चयनित बैंक या पोस्ट ऑफिस के माध्यम से होता है।
  3. पेंशन प्राप्तकर्ता की मृत्यु: यदि पेंशन प्राप्तकर्ता की मृत्यु होती है, तो उनके नामांकन (nominee) को पेंशन राशि मिलती है।
  4. बैंक या पोस्ट ऑफिस में संपर्क: पेंशन प्राप्त करने के लिए, आपको आपके चयनित बैंक या पोस्ट ऑफिस में संपर्क करना हो सकता है और पेंशन के बारे में जानकारी प्राप्त करनी हो सकती है।

कृपया ध्यान दें कि पेंशन निकालने के लिए आपके द्वारा चुनी गई पेंशन आयु की शर्तों का पालन करना होता है, और retirement तक पेंशन की गारंटी होती है।

अटल पेंशन योजना में कितना ब्याज मिलता है?

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में ब्याज की दर सरकार द्वारा निर्धारित नहीं की जाती है। बल्कि इसका ब्याज आपकी चयनित पेंशन राशि, आयु, और योगदान के आधार पर बदलता रहता है। आपकी मासिक योगदान की राशि के साथ ही ब्याज का भी अधिकार बदल जाता है। यदि आप जल्दी शामिल होते हैं और अधिक योगदान करते हैं, तो आपको अधिक ब्याज प्राप्त हो सकता है। लेकिन आपके योगदान की दर और पेंशन राशि को निर्धारित करने के बाद उनमें कोई परिवर्तन नहीं किया जा सकता है।

यहां कुछ मुख्य बिंदुएं हैं:

  1. समायोजन की दर: सरकार आपके योगदान की दर का 50% तक समायोजन कर सकती है, लेकिन इसकी अधिकतम सीमा 1,000 रुपये प्रति वर्ष होती है, और यह समायोजन पांच वर्षों तक होती है।
  2. ब्याज की दर: आपकी चयनित पेंशन राशि के ब्याज की दर वर्षों के आधार पर बदल सकती है, लेकिन यह सीमित होती है।
  3. ब्याज की गारंटी: योजना में ब्याज की गारंटी स्थायी नहीं होती है, और यह निर्भर करता है कि ब्याज की दर के बदलावों का आपके योगदान के साथ कैसे प्रतिक्रिया होती है।

अधिक जानकारी के लिए, आपको आपके चयनित बैंक या पोस्ट ऑफिस से संपर्क करना चाहिए, जहां आपको आपके योगदान की विस्तृत जानकारी मिलेगी।

Conclusion

अटल पेंशन योजना (एपीवाई) सेवानिवृत्ति के दौरान वित्तीय सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की एक अच्छी पहल है। किफायती योगदान, सरकारी सहायता और कर लाभ की पेशकश करके, यह व्यक्तियों को अपने भविष्य(बुढ़ापे) के लिए योजना बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है। तो, आज ही APY के लिए आवेदन करके सुरक्षित सेवानिवृत्ति की ओर एक कदम उठाएं।

FAQs:

अटल पेंशन योजना में कितना पैसा जमा करना पड़ता है?

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में आपको जमा करने के लिए रुपयों की राशि की मात्र आपकी आयु और आपकी प्राथमिकता के हिसाब से निर्धारित होती है। यह योगदान निम्नलिखित रूप में बदल सकता है:
प्रवेश की आयु: आप योजना में शामिल होने के जब ज्वाइन करते हैं, उस वक्त आपका मासिक योगदान कम होता है।
पेंशन राशि: आपकी पेंशन राशि का चयन करते समय, आपके द्वारा इच्छित पेंशन की राशि पर ही आपका मासिक योगदान निर्धारित होता है। यह ₹1,000 से ₹5,000 प्रतिमास तक हो सकता है।

अटल पेंशन योजना क्या है?

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) एक सरकार द्वारा समर्थित पेंशन योजना है जिसका उद्देश्य भविष्य की वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करना है। इसमें आवेदक अपनी आयु और चयनित पेंशन राशि के हिसाब से मासिक योगदान करते हैं और पेंशन की गारंटी प्राप्त करते हैं। यह योजना भारतीय नागरिकों के लिए उपयोगी है, खासकर असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए।

अटल पेंशन योजना में आवेदन कैसे करें?

आप अपने नजदीकी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाकर अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। आपको वहां से आवश्यक फॉर्म प्राप्त होगा, जिसको भरकर योजना में शामिल हो सकते हैं।

यह योजना कितने वर्षों के लिए है?

अटल पेंशन योजना आपकी पूरी जिन्दगी के लिए होती है, लेकिन आपको पूर्णावाधि(retirement) तक नियमित भुगतान करना होता है तकि आप अपने भविष्य को सुरक्षित बना सकें।

क्या यह योजना किसी अन्य सरकारी योजना के साथ ली जा सकती है?

हां, आप अटल पेंशन योजना को अन्य सरकारी योजनाओं के साथ भी ले सकते हैं, परंतु आपको योजनाओं के लिए निर्धारित नियमों का पालन करना होगा।

1 thought on “अटल पेंशन योजना (Atal pension Yojana) क्या है? जानिए इस योजना में आवेदन कैसे करें।”

Leave a Comment